World Environment Day: विश्व पर्यावरण दिवस के अवसर पर डॉ मनीषा कौशिक को किया ग्रीन इंडिया सम्मान से सम्मानित।

🔔Subscribe to Notifications



नई दिल्ली, nknewsindia : स्ट्रेटेजिक पार्टनर रुटस्किल्स की संस्थापिका व पर्यावरणविद श्रीमती भाविशा बुद्धदेव जी ने जानकारी दी कि विश्व पर्यावरण दिवस के अवसर पर 4 जून से 6 जून तक प्रगति मैदान नई दिल्ली में पर्यावरण पर विश्व सम्मलेन, स्वच्छ ऊर्जा और नई तकनीक पर अन्तर्राष्ट्रीय प्रदर्शनी के साथ-साथ ऑल इंडिया मेयर व RWA का शिखर सम्मलेन आयोजित किया जायेगा। 

WorldEnvironmentDay-On-the-occasion-of-World-Environment-Day-Dr-Manisha-Kaushik-was-honored-with-Green-India-Award.jpg
WorldEnvironmentDay-On-the-occasion-of-World-Environment-Day-Dr-Manisha-Kaushik-was-honored-with-Green-India-Award



भाविशा जी ने बताया कि इस कार्यक्रम में  डॉ मनीषा कौशिक जी जो पेशे से जेनेटिक इंजीनियर व माइक्रोबायोलॉजिस्ट होने के साथ-साथ एक उद्यमी, सामाजिक कार्यकर्ता और एक अनुभवी पर्यावरणविद भी हैं तथा पर्यावरण संरक्षण के क्षेत्र में अथक रूप से कार्य कर रही हैं को ग्रीन इण्डिया अवार्ड से सम्मानित किया जा रहा है। 


WorldEnvironmentDay-On-the-occasion-of-World-Environment-Day-Dr-Manisha-Kaushik-was-honored-with-Green-India-Award.jpg


डॉ मनीषा जी ने समाज के उत्थान के लिए अनेकों प्रभावशाली कार्य सम्पन्न किये हैं।जैसे कि रिड्यूस, रीयूस, रिसाइकल के तहत जूट बैग्स बनाना, मलिन बस्तियों और स्कूलों में बायोडिग्रेडेबल सैनिटरी पैड का वितरण करना,स्टील के बर्तनों के बढ़ावा देना,इको ब्रिक्स या ईंटों का निर्माण करना आदि। मनीषा जी के नेतृत्व में वृक्षारोपण,अपशिष्ट कागज को रीसाइकिल कर किताबें बनाना व अनेक गाँवों में ग्रीनबेल्ट का निर्माण भी किया गया है।

नगर निगम गुड़गांव (एमसीजी)और गुड़गांव के लोगों के समर्थन में मनीषा जी ने एमजी रोड गुड़गांव में कूड़ेदान स्थापित करवाएं हैं। पर्यावरण को साफ रखने के लिए एक अभियान भी प्रारम्भ किया है जिसके तहत सभी फेरीवालों व विक्रेताओं को प्लास्टिक के रैपर,कचरा आदि को उपयुक्त कूड़ेदान में डालने और अपने आस-पास के क्षेत्रों को स्वच्छ और हरा-भरा रखने के लिए शिक्षित किया जाता है।

मनीषा जी ने प्रसिद्ध खेल "सांप-सीढ़ी" की तर्ज पर सामाजिक विकास के लिए "सृष्टि बोर्ड गेम" भी बनाया है जिसे लोगों द्वारा बच्चों की तरह ही खेला जाता है। खेल-खेल में ही नागरिकों को "पानी बर्बाद न करें" जैसे सन्देश भी दिए जाते हैं व लोगों को जागरूक करने का यथा संभव प्रयास भी किया जाता है। 

भाविशा जी ने बताया कि इस आयोजित कार्यक्रम में  इंडिया एग्जिबिशन सर्विसिस के वरिष्ठ सलाहकार ऍन के सहगल, उत्तराखंड के राज्यपाल लेफ्टिनेंट जनरल गुरमीत सिंह, आंध्रा सरकार के सलाहकार, GAIN के निर्देशक, DMRC के निर्देशक, ISA के महानिर्देशक, गुजरात सरकार के तकनीकी सलाहकार, उत्तर प्रदेश के जल शक्ति मंत्री, दिल्ली के पर्यावरण मंत्री, झांसी मंडल के आयुक्त, विभिन्न मंत्रालयों के संयुक्त सचिव व 12 से अधिक म्युनिसिपल कोरपोरेशन के महापौर आदि भाग लेंगे। 

शिवालिक एवं मेजर सुशील गोयल ने जानकारी दी कि इस अवसर पर पर्यावरण के क्षेत्र में, जल संरक्षण के क्षेत्र में, प्रदूषण नियंत्रण के क्षेत्र में व कम्पोस्टिंगआदि के क्षेत्र में उच्चतम प्रदर्शन करने वाले सभी लोगों को भी “ग्रीन इण्डिया अवार्ड” से सम्मानित किया जाएगा।

सभी पुरस्कार विजेताओं एवम आयोजकों को औद्योगिक भागीदार रूट्सइंजीनियस औद्योगिक सर्विस व ग्रीन उपहार पीडीएस इंटरनेशनल की तरफ से बहुत-बहुत शुभकामनाएं दीं गयीं।