मुकेश खन्ना ने स्वतंत्रता सेनानियों के परिवार के सदस्यों के साथ जंतर-मंतर पर जय हिंद अभियान का मोर्चा निकाला


नई दिल्ली , effective communication: 
पिछले लगातार 6 वर्षों से केंद्र सरकार,राज्य सरकारों तक अपनी मांगें संग्राम फाउंडेशन के तहत चल रहा जय हिंद अभियान रखता आ रहा है लेकिन किसी ने मांगों पर कोई जवाब नही दिया।अतः सरकार का ध्यान दिलाने के लिए 5 जून को जंतर मंतर पर स्वतंत्रता सेनानियों सम्बन्धी मांगों को लेकर प्रदर्शन किया गया जिसमें पूरे देश से अभियान के सहयोगियों ने हिस्सा लिया।

mukesh khanna took out the front of Jai Hind Abhiyan on Jantar Mantar with family members of freedom fighters
mukesh khanna took out the front of Jai Hind Abhiyan on Jantar Mantar with family members of freedom fighters



इस मोर्चे में मुकेश खन्ना,राष्ट्रीय अध्यक्ष गोपाल सिंह,राष्ट्रीय सचिव दीपक त्रिपाठी के अलावा स्वतंत्रता सेनानियों के कई परिजनों ने भी हिस्सा लिया।

मोर्चे के दौरान मुकेश खन्ना ने कहा कि आखिर क्या कारण है कि सरकार स्वतंत्रता सेनानियों के लिए उठ रही जायज मांग को नजरअंदाज कर रही है।क्यों नही भगतसिंह, चंद्रशेखर आज़ाद जैसे नामो को भारतरत्न नही दिया जाता?क्यों नही इनके नामो से सरकारी योजनाएं चलाई जाती?

गोपाल सिंह ने बताया कि यह दुर्भाग्यपूर्ण है कि 6 वर्षों के निरन्तर प्रयासों के बावजूद सरकार का ध्यान न देना उनका स्वतंत्रता सेनानियों के प्रति उदासीन रवैया दर्शाता है।दीपक त्रिपाठी ने प्रेस वार्ता में कहा कि यदि अभियान की मांगें नही मानी जातीं तो हम अपना प्रदर्शन आगे भी करेंगे और जब तक सरकार जवाब नही देती तब तक हम अपने लोकतांत्रिक प्रयासों को जारी रखेंगे।उन्होंने बताया कि क्या भारतरत्न,राष्ट्रीय राजमार्गों के नामकरण, पाठ्यक्रम में विस्तृत उल्लेख इत्यादि मांगें स्वतंत्रता सेनानियों के लिए जायज नही हैं और अगर जायज नही है तो सरकार खुलकर कहे।अगर हमारी मांगें जायज है तो तत्काल इसपर कार्यवाई हो।मुम्बई से जय हिंद अभियान के सैकड़ों सहयोगी पूरे दिन अपने स्वतंत्रता संग्राम सेनानियों के लिये जंतर मंतर पर डटे रहे।

मुकेश खन्ना ने कहा कि हमने अपना डिमांड रख दिया अब आगे सरकार के जवाब का इंतजार है।