guru nanak jayanti 2021 पर WSCC टीम ने 552 वें प्रकाश पर्व पर आप सभी को शुभकामनाएं दी

 

 दिनांक: 19 नवंबर 2021 WSCC टीम आप सभी को गुरु नानक साहिब जी के 552वें प्रकाश पर्व की हार्दिक बधाई एवं शुभकामनाएं देती है आज सिखों के पहले गुरु, गुरु नानक साहिब जी की 552वीं जयंती है।

WSCC'S LEARNING & DEVELOPMENT SEMINAR

 वर्ल्ड सिख चैंबर ऑफ कॉमर्स के संस्थापक और अध्यक्ष डॉ. परमीत सिंह चड्ढा की और से सभी को गुरुपुरब की बहुत-बहुत बधाई और विष्व शान्ति की कामना।

वर्ल्ड सिख चैंबर ऑफ कॉमर्स ( WSCC) ने मनाई पहली वर्षगांठ


WSCC सिख समुदाय द्वारा कोरोना सेना 2021 प्रशंसा अभियान शुरू किया गया

 आज, गुरुपुरब, जिसे गुरु नानक जयंती के रूप में भी जाना जाता है, दुनिया के विभिन्न हिस्सों में मनाया जा रहा है। गुरु नानक जयंती या गुरुपुरब महत्वपूर्ण सिख त्योहारों में से एक है।  यह सिख धर्म के संस्थापक गुरु नानक साहिब जी की जयंती है।

गुरुद्वारा रकाबगंज साहिब में फिल्मी गाने चलने पर (डीएसजीएमसी) अध्यक्ष , सिरसा गुरु ग्रंथ साहिब से माफी मांगे । ( परमजीत सिंह सरना)

 डॉ. चड्ढा ने टिप्पणी की "एक जातिविहीन और वर्गहीन समाज की नींव रखना, जो समतावादी और लोकतांत्रिक था, एक क्रांतिकारी कदम है। यह भी सच है कि गुरु नानक एक महान सुधारक थे जिन्होंने भारतीय समाज को कई बुराइयों और अंधविश्वासी प्रथाएं से छुटकारा दिलाने का प्रयास किया था।इस प्रकार गुरु नानक एक "क्रांतिकारी और सुधारक दोनों थे और दोनों के होने में कुछ भी अप्राकृतिक या विरोधाभासी नहीं है"।

गुरुद्वारा रकाबगंज साहिब में चल रहे फिल्मी गानों को लेकर उठा विवाद ।

 उनका जन्म पाकिस्तान के तलवंडी क्षेत्र में हुआ था।  हिंदू कैलेंडर के अनुसार, गुरु नानक साहिब का जन्म 1469 में कार्तिक माह की पूर्णमाशी को हुआ था। इस वर्ष यह तिथि 19 नवंबर को पड़ रही है।

Amitabh Bachchan से दो करोड़ का दान लेने पर 15 कमेटी सदस्य फिर से पहुंचे कमेटी दफ्तर मांगा हिसाब

 गुरु नानक साहब ने सिख नैतिकता और जीवन के तरीके के तहत तीन स्तंभ दिए: नाम जपना, किरत करना और वंद छकाना ।



 डब्ल्यूएससीसी के सभी सदस्यों की ओर से हम सभी को गुरु नानक देव जी के जन्मोत्सव की शुभकामनाएं देते हैं।

0/Post a Comment/Comments

DIFFERENT NEWS

EVENT FESTIVAL

EVENT FESTIVAL