दिल्ली सिख गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी चुनाव के प्रमुख पर हुआ जानलेवा हमला : परमजीत सिंह सरना

 नई दिल्ली (11,सितम्बर,2021):  दिल्ली सिख गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी के कुछ सदस्यों और बादल दल के कार्यकर्ताओं ने गुरुवार को कानून व्यवस्था को हाथ में लेते हुए,सैकड़ों पुलिस कर्मियों की मौजूदगी में दिल्ली गुरुद्वारा चुनाव के प्रमुख सरदार नरेंद्र सिंह की गाड़ी को घेर लिया ।

DSGMC Elections 2021: दिल्ली सिख गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी (डीएसजीएमसी) के भ्रष्टाचार का किया विरोध : शिरोमणि अकाली दल

DSGMC Elections 2021: दिल्ली सिख गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी के आर्थिक रिकार्ड को संगत के सामने पेश करने की माँग : प्रधान त्रिलोचन सिंह


सुरक्षा बलों ने मामले में सतर्कता दिखाते हुए दिल्ली गुरुद्वारा डायरेक्टर को सुरक्षित बाहर निकाला  फिलहाल पुलिस ने एफआईआर दर्ज कर आगे की कार्यवाही शुरू कर दी है ।


डीएसजीएमसी चुनाव 2021: दिल्ली सिख गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी के चुनाव स्थगित होने पर विरोध शुरू


परमजीत सिंह सरना : बादलों ने एक बार फिर अपना तथाकथित माफियाओं वाला चेहरा दुनिया के सामने जगजाहिर कर दिया इन्होंने सिखी को फिर शर्मसार किया और सरदार नरेंद्र सिंह एक ईमानदार और निडर सिख है। इन्होंने बादलों के काले करतूतों पर लगाम लगाते हुए गुरुद्वारा चुनाव को साफ,निष्पक्ष और सुचारू रूप से सम्पन्न करवाया। डायरेक्टर की ईमानदारी से घबराए और अपने हार को पचाने में असमर्थ कुछ माफियों ने उनपर हमला किया। हम सिख जगत के प्रतिनिधि ऐसे कुकृत्य की कठोर शब्दों में निंदा करते हैं। दोषियों के खिलाफ सिर्फ एफआईआर ही नही बल्कि गहन जाँच करके जेल में भेजने की जरूरत है।

     पूरे मामले में प्रकाश डालते हुए सरना ने और आगे बताया कि विरोधी खेमा ने वोटरों और सिंह सभाओं के लिस्ट में अभी तक भारी फर्जीवाड़ा किया था। यह डीएसजीएमसी और एसजीपीसी दोनों जगह है। सिंह सभाओ के प्रमुख के नाम गलत है, ऐसे प्रमुख के नाम है जिनका देहांत 10-20 साल पहले हो चुका है। जो सिंह सभाए मौजूद ही नहीं हैं उनके नाम लिस्ट में दिख रहे थे। इन पूरे हेर-फेर का संज्ञान लेते हुए गुरुद्वारा डायरेक्टरेट ने इसमें और पारदर्शिता लाने का आग्रह किया। लिस्टों में सुधार के बाद ड्रा की प्रकिया शुरू करनी थी।

 सरना ने और आगे बताया  इन बातों को लेकर बादलों के गुंडे भड़क गए और उन्होंने गुरुद्वारा साहिब के पवित्र चुनाव प्रकिया को धूमिल किया। इसकी पूरी दुनिया मे आलोचना हो रही है। आश्चर्य की बात यह है कि कैमरे के सामने मनजिंदर सिंह सिरसा और हरमीत कालका आपत्तिजनक शब्दों का प्रयोग कर रहे हैं। बादल के डीएसजीएमसी प्रतिनिधि खुले तौर पर हमले कर रहे हैं और धमकियाँ दे रहे है। इनके वीडियों, फोटों सब कुछ उपलब्ध है। 

0/Post a Comment/Comments

DIFFERENT NEWS

EVENT FESTIVAL

EVENT FESTIVAL