दिल्ली की 6 हजार आशा वर्कर्स कल करेंगी हड़ताल


नई दिल्ली :  कल यानी 24 सितम्बर को देश भी की आशा, आंगनवाड़ी व मिड डे मील वर्कर हड़ताल पर है। हड़ताल का आह्वान एआईयूटीयूसी सहित देश के 11 केंद्रीय ट्रेड यूनियनों ने संयुक्त रूप से किया है। स्किम वर्कर्स फ़ेडरेशन ऑफ इंडिया की राष्ट्रीय सचिव मण्डल सदस्य कविता सिंह ने कहा कि देश भर में 1 करोड़ स्किम वर्कर अपनी 10 मांगों को लेकर हड़ताल पर रहेगी।


 उन्होंने कहा कि हम सरकार से सरकारी कर्मचारी के दर्जे की मांग कर रहे हैं। मोदी सरकार का जुठ इतना बढ़ा है कि सितम्बर 2018 में मोदी जी ने चुनावों से पहले खुद  आशाओ के इंसेंटिव व आंगनवाड़ी के मानदेय को दोगुना करने की घोषणा की थी। दो महीने में वह लागू होनी थी जो आज तक लागू नही की गई है। जो एक ओर चुनावी जुमला बना दिया है। केंद्र सरकार कुछ नही कर रही है इसलिए स्किम वर्कर्स को हड़ताल करके सरकार को चेतावनी देने पर विवश होना पड़ा है। 


    दिल्ली आशा वर्कर्स एसोसिएशन (दावा) यूनियन की महासचिव उषा ठाकुर ने कहा कि दिल्ली की 6 हजार आशाएं हड़ताल पर रहेगी और कल दिल्ली के माननीय संसद सदस्यों के माध्यम से प्रधानमंत्री व केंद्रीय स्वास्थ्य के नाम अपने ज्ञापन भेजेगी। दिल्ली के सभी सातों सांसदों को ज्ञापन देने उनके दफ्तरों पर सेकड़ो की संख्या में जाएगी। उन्होंने दिल्ली की सही आशाओ को कल मुकम्मल हड़ताल करने की अपील की है।