दादी प्रकाशमणि का स्मृति दिवस मनाया गया, बीके मुन्नी डॉक्टरेट की डिग्री से हुई सम्मानित ।

 राजस्थान : आबू रोड स्थित शांतिवन में बुधवार को  दादी प्रकाशमणि की 14वीं उदगम वर्षगांठ  मनाई गई , इस अवसर पर सभी में बी. के भाई - बहन मौजूद रहे और सभी ने अपने अनुभव साझा कर सच्ची श्रद्धांजलि दी और कई  गणमान्य  ब्रह्माकुमारीज़ को सम्मानित भी किया गया । 


 ये भी पढ़ें Tokyo Olympics 2020 : रवि कुमार ने जीता भारत के लिए सिल्वर मेडल,ब्रह्मकुमारिज ने किया सम्मानित


ये भी पढ़ें :  दिल्ली में डॉ बी.के दीपक हरके को किया "भारत गौरव अवार्ड” से सन्मानित

वहीं इस मौके पर ब्रह्माकुमारीज़ की प्रमुख दादी रतनमोहिनी ने दादी प्रकाशमणि को मौखिक श्रद्धांजलि देते हुए कहा कि दादी इस संगठन के महत्वपूर्ण स्तंभ हैं, सभी के साथ समान व्यवहार करते थे और सभी पृष्ठभूमि के लोगों ने उनका आशीर्वाद लिया, वह बहुत विनम्र और आत्म-अभिमानी होने के कारण खुद को 'मैं' कहने से बचती थी उन्होंने मां के रूप में सभी का पालन-पोषण किया है । 

ये भी पढ़ें :  डॉ: बी. के दीपक हरके को "इंटरनेशनल आइकन अवार्ड 2021" से किया सम्मानित




 

 ये भी पढ़ें :  डॉ. बी.के. दीपक हरके को इंटरनेशनल ग्लोरी अवार्ड 2019 से किया सन्मानित


डॉ. रिपुरंजन सिन्हा : आज हम राजयोगिनी बीके मुन्नी को आध्यात्मिकता, ज्ञान सृजन और प्रसार में उनके योगदान के लिए डॉक्टरेट ऑफ फिलॉसफी की मानद उपाधि प्रदान कर रहे हैं। उन्होंने दुनिया भर में ब्रह्माकुमारीज परिवार में सभी को बधाई दी। उन्होंने कहा कि आध्यात्मिकता एक महान जीवन जीने का मार्ग प्रदान करती है। हमें धर्म और अध्यात्म के बीच के अंतर को समझना चाहिए। शोध से पता चलता है कि आध्यात्मिक लोग फलते-फूलते हैं।

 ये भी पढ़ें :  फोब्स मैगजिन ने डॉ.दीपक हरके को किया सम्मानित .

 बीके मुन्नी: डॉ. रिपुरंजन सिन्हा और टोंगा के कॉमनवेल्थ वोकेशनल यूनिवर्सिटी के प्रति हार्दिक आभार और सम्मान व्यक्त किया। उन्होंने कहा कि उन्हें दिया जा रहा यह सम्मान भगवान दादी प्रकाशमणि और उन वरिष्ठ भाइयों का है जिन्होंने उन्हें संगठन के असीमित कार्य को संभालने का कौशल सिखाया।

   बी. के मुन्नी को सम्मान प्रमाण पत्र प्रदान कर किया सम्मानित


डॉ. बीके दीपक हरके :  राष्ट्रीय सचिव, वर्ल्ड बुक ऑफ रिकॉर्ड्स, लंदन ने ब्रह्म कुमारियों के कार्यकारी सचिव डॉ. बीके मृत्युंजय को कोरोना महामारी के दौरान समाज को दी गई सेवाओं का सम्मान करते हुए एक प्रमाण पत्र देकर सम्मानित किया।

18,000 मोमबत्तियाँ जलाकर मनाया गया दादी रतन मोहिनीजी के 95 वां जन्मदिवस

इस मौके पर दादी रतनमोहिनी, ब्रह्मा कुमारियों की प्रमुख ब्रह्मा कुमारियों के अतिरिक्त महासचिव बीके बृज मोहन; बीके मृत्युंजय, ब्रह्म कुमारियों के कार्यकारी सचिव; बीके संतोष, ब्रह्म कुमारियों के संयुक्त प्रमुख; इस अवसर पर वर्ल्ड बुक ऑफ रिकॉर्ड्स, लंदन के राष्ट्रीय सचिव बीके डॉ. दीपक हरके मौजूद रहे ।