डीएसजीएमसी चुनाव 2021:दिल्ली सिख गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी शिरोमणि अकाली दल को इन पार्टियों ने दिया समर्थन


नई दिल्ली(गुरुवार, 5 अगस्त, 2021): सिख समाज में महत्वपूर्ण स्थान रखने वाले रामगढ़िया बोर्ड ने 45 वर्षों के बाद पहली बार शिरोमणि अकाली दल दिल्ली, सरना को सर्वसमत्ती से समर्थन दिया है। यह समर्थन आने वाले दिल्ली सिख गुरुद्वारा प्रबधंन कमिटी - चुनावों के मद्देनजर महत्वपूर्ण माने जा रहे है। जानकारों के अनुसार, रामगढ़िया समुदाय दिल्ली के सिख जनसंख्या में 40% तक वोटरों को प्रभावित करने में सक्षम है। शिअदद और रामगढ़िया बोर्ड के बीच गठजोड़, नए राजनीतिक समीकरणों को जन्म देते हुए दिख रही है। 

 ये भी पढ़ें:     DSGMC चुनाव 2021: दिल्ली सिख गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी (SADD) को वॉर्ड नंबर 2 स्वरूप नगर से समर्थन मिलेगा या नहीं देखे यहां !


  ये भी पढ़ें:    डीएसजीएमसी के 40% से अधिक कर्मचारियों को पिछले एक साल से नहीं मिला वेतन (अकाली दल )


रामगढ़िया समाज के मुख्य सदस्यों का स्वागत करते हुए सरना भाइयो ने सभी का शुक्रिया किया। 

"रामगढ़िया समाज के साथ आने से हमें नया बल मिलेगा। शिरोमणि अकाली दल दिल्ली आपके सभी अधूरे कार्यो को पूरा करेगी। पिछली कमेटियों ने पंथ को आगे ले जाने के नाम पर सिर्फ जुमला और खोखले वादे किए है। दिल्ली गुरूद्वरा कमेटी इतिहास के सबसे बुरे वक्त से गुजर रही है। हम सभी को एकजुट होकर पंथ को आगे ले जाने के लिए सेवा करना होगा 

  ये भी पढ़ें:    डीएसजीएमसी चुनाव 2021:दिल्ली सिख गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी (SADD) ने की चुनाव की तैयारी तेज

नए सदस्यों का स्वागत करते हुए शिअदद पार्टी महासचिव गुरमीत सिंह शंटी ने बताया कि रामगढ़िया समाज के लोग सिखी के आधारभूत सिद्धान्तों का पालन करने में विश्वास रखते है।मैने उनको हमेशा ही कीरत करके जीवन निर्वहन करते देखा है। इनके बहुमूल्य समर्थन से हमें पूरे दिल्ली में नया बल मिलेगा। 

   ये भी पढ़ें:   SDM वसंत विहार द्वारा गुरुद्वारों को बंद करने पर सरना ने CM को पत्र लिखकर जताई आपत्ती


रामगढ़िया बोर्ड के प्रधान जतिंदरपाल सिंह गग्गी ने बताया कि वह शिअदद पार्टी प्रधान परमजीत सिंह सरना एवं पटना साहिब के पूर्व प्रधान हरविंदर सिंह सरना के विचारों और पंथ के चढ़दीकलां के लिए कर रहे निःस्वार्थ प्रयासों को देखकर,बोर्ड ने समर्थन का निर्णय लिया है। रामगढ़िया समाज के उम्मीदवारों को 8 से ज्यादे डीएसजीएमसी सीटों पर टिकट देने की वजह से गग्गी ने शिअदद प्रधान को शुक्रिया भी किया।

 ये भी पढ़ें:     मनजिंदर सिंह सिरसा के खिलाफ लुकआउट नोटिस जारी


बोर्ड ने शिअदद के जत्थेदार रंजीत सिंह के साथ मिलकर चुनाव लड़ने के निर्णय की प्रसंशा भी की। रामगढ़िया बोर्ड,दिल्ली ने पंथ की एकता के लिए अपने प्रयासों को जारी रखने का वादा किया।


  ये भी पढ़ें:       डीएसजीएमसी चुनाव 2021: दिल्ली सिख गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी के चुनाव स्थगित होने पर विरोध शुरू


स्वागत समारोह में बोर्ड के मुख्य सदस्य इंदरजीत सिंह बब्बू,महेंद्र सिंह भुल्लर (उपाध्यक्ष, आल इंडिया रामगढ़िया समाज),कुलवंत सिंह (जनरल सेकेट्री, आल इंडिया रामगढ़िया समाज), बलविंदर मोहन सिंह सन्धु (वाइस चेयरमैन), अवतार सिंह गुजी (सेकेट्री),गुरिंदर सिंह(कैशियर)

करनैल सिंह(उपाध्यक्ष )मनमीत सिंह(उपाध्यक्ष)चरणजीत सिंह रेनू,जगजीत सिंह पप्पू, करमजीत सिंह ( एक्जयूटिव मेम्बर),देविंदर सिंह पनेसर, गुरदेव सिंह काकू (ज्वाइंट सेकेट्री) मौजूद थे।



  ये भी पढ़ें:     DSGMC पर फिर उठे सवाल, अकाली दल ने साधा मनजिंदर सिंह सिरसा पर निशाना

नए सदस्यों का स्वागत करने हुए शिअदद से जत्थेदार बलदेव सिंह, मंजीत सिंह सरना, रमनदीप सिंह सोनू,तजेंद्र सिंह गोपा, अमरीक सिंह रमेश नगर,जितेंद्र सिंह सोनू, इंदरप्रीत सिंह कोच्चर,भुपिंदर सिंह पीआरओ, हरिंदर पाल सिंह इत्यादि मौजूद थे।

0/Post a Comment/Comments