Amitabh Bachchan से दो करोड़ का दान लेने पर 15 कमेटी सदस्य फिर से पहुंचे कमेटी दफ्तर मांगा हिसाब

नई दिल्ली (1 जून 2021) दिल्ली सिख गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी के कनिष्ठ उपाध्यक्ष कुलवंत सिंह बाठ ने आज 15 कमेटी सदस्यों की मौजूदगी में अपना कार्यभार पुनः संभाल लिया। कमेटी दफ्तर गुरु गोबिंद सिंह भवन में जनरल मैनेजर के कमरे में पहुंचे कमेटी सदस्यों ने लगभग 3 घंटे तक कमेटी के कामकाज पर उठ रहे सवालों के बारे जनरल मैनेजर धर्मेंद्र सिंह से जवाब तलबी की।



 खासकर फिल्म स्टार अमिताभ बच्चन से कमेटी को आई करोड़ों रुपए की धनराशि तथा अकाली दल को पंजाब भेजें गए मेडिकल उपकरणों के मामले पर कमेटी के द्वारा दिए जा रहे घुमावदार सवालों को प्रमुखता से पूछा गया। साथ ही ऐलान किया कि प्रबंधकों के फैसलों पर रोजाना आकर अवलोकन किया जाएगा।इस बारे जानकारी देते हुए बाठ ने बताया कि पिछले कुछ दिनों से हम कमेटी प्रबंधकों से उनकी मनमर्जीयों को लेकर सवाल पूछ रहे हैं। लेकिन कोई जवाब नहीं दिया जा रहा। मैंने पिछले दिनों अपना पदभार फिर से संभालने की इच्छा जताकर कमेटी से अपना कमरा मांगा था,  जिस पर जनरल मैनेजर ने आज मुझे लिखित में कमेटी प्रबंधकों के हवाले से जवाब देकर कमरा देने की बाबत दिल्ली कमेटी एक्ट की धारा पूछी है।


सरना ने सिख कत्लेआम के दोषियों को सजा दिलाने के लिए कानूनी प्रक्रिया तेज करने की माँग की ।

 बाठ ने हैरानी जताई कि विधिवत तरीके से चुने हुए कनिष्ठ उपाध्यक्ष को कमेटी प्रबंध में अपना सहयोग देने की पेशकश करने पर एक्ट की धारा पूछने वाले खुद कमेटी एक्ट की धज्जियां उड़ा रहे हैं। ना तो कोरोना राहत के नाम पर आए नकदी और सामान का ब्यौरा दिया जा रहा है और ना ही वितरित किए गए सामान की मात्रा और उसे देने के लिए अपनाएं गए मापदंडों की हमारे को जानकारी दी जा रही है। एक तरफ कमेटी दावा करती है, कोई भी आकर हिसाब पूछ सकता है, पर बार-बार पत्र लिखने के बाद भी कुछ नहीं बताया जा रहा।‌ इसलिए हमने फैसला लिया है कि हम रोजाना आकर जनरल मैनेजर के कमरे में बैठकर कमेटी की दिनचर्या पर निगाह रखेंगे, क्योंकि कमेटी प्रबंध की पारदर्शिता संदेह के घेरे में है।

तमिलनाडु में सिख गुरु के चित्र का प्रयोग करके बेचा जा रहा है तम्बाकू !

दिल्ली कमेटी के कार्यकारिणी सदस्य परमजीत सिंह राणा ने जनरल मैनेजर से पूछा कि उन हेड ग्रंथीयों के नाम कमेटी सार्वजनिक क्यों नहीं कर रही, जिनका हवाला देकर कमेटी महासचिव हरमीत सिंह कालका अमिताभ बच्चन से आई धनराशि को सही बता रहे है ? दिल्ली कमेटी के कार्यकारिणी सदस्य हरिंदर पाल सिंह ने कहा कि कमेटी का कार्य क्षेत्र कमेटी एक्ट अनुसार केवल दिल्ली हैं, फिर दिल्ली की संगतों को नजरंदाज करके करोड़ों रुपए के मेडिकल उपकरण दिल्ली से बाहर सियासी फायदे के लिए क्यों भेजें जा रहें हैं ? जबकि सोशल मीडिया पर अकाली विधायक रोजी बरकंदी के द्वारा आक्सीजन कंसंट्रेटर की डाली गई फोटो में साफ दिख रहा है कि दिल्ली कमेटी द्वारा भेजे गए कंसंट्रेटर पर पार्टी प्रधान सुखबीर सिंह बादल की फोटो के स्टीकर चिपका करके सुखबीर बादल के द्वारा कंसंट्रेटर भेजने की बात लोगों को बताई जा रही है। 


WSCC सिख समुदाय द्वारा कोरोना सेना 2021 प्रशंसा अभियान शुरू किया गया ।


इस मौके नवनियुक्त कमेटी सदस्य इन्द्रमोहन सिंह के ऐतराज पर कमेटी की पूर्व वरिष्ठ उपाध्यक्ष रणजीत कौर के कमरे के बाहर लगी नेम प्लेट को कमेटी स्टाफ ने उतार दिया। क्योंकि तीसहजारी कोर्ट ने रणजीत कौर के को-आप्ट सदस्य के तौर पर निर्वाचन को इंद्रमोहन सिंह के द्वारा चुनौती देने पर रद्द करते हुए इंद्रमोहन सिंह को निर्वाचित घोषित किया था। इस मौके कमेटी के पूर्व महासचिव गुरमीत सिंह शंटी आदि मौजूद थे।

0/Post a Comment/Comments