WSCC सिख समुदाय द्वारा कोरोना सेना 2021 प्रशंसा अभियान शुरू किया गया ।


 नई दिल्ली: - डब्ल्यूएससीसी ने महामारी के समय में विभिन्न सामाजिक कल्याण के लिए चौबीसों घंटे सेवा करने वाले संगठनों और निस्वार्थ योद्धाओं को समानित करने के लिए एक प्रशंसा अभियान शुरू किया है।  इन्ही समाजिक कार्यकर्ता के कारण ही हमारा जीवन सहने योग्य है।  प्रशंसा अभियान को "कोविड आर्मी 2021" नाम दिया गया है क्योंकि वे सभी सेना के जवानों की तरह कोरोना के साथ युद्ध जैसी स्थिति में लड़े थे।


 विश्व सिख चैंबर ऑफ कॉमर्स के अध्यक्ष डॉ. परमीत सिंह चड्ढा हैं और अन्य विभिन्न सिख गणमान्य व्यक्ति इस प्रमुख संगठन के सदस्य हैं।  डॉ. चड्ढा ने सभी संस्थाओं और सामाजिक कार्यकर्ताओं को सम्मानित किया और उनकी भी प्रशंसा की और उन्हें धन्यवाद दिया जो इस महामारी के दौर में अपनी जान जोखिम में डालकर मानवता के लिए काम कर रहे हैं। इस मुहिम के दौरान डिजिटल प्रमाण पत्र जारी किए गए और उन्हें ईमेल और सोशल मीडिया द्वारा भेजे गए।  अगस्त 2021 में दिल्ली में भव्य कार्यक्रम आयोजन की योजना है, जहां प्रसिद्ध हस्तियों द्वारा इन सभी योधाओ को ट्राफियां दी जाएंगी।  जिन लोगों को कोरोना आर्मी 2021 सर्टिफिकेट ऑफ एप्रिसिएशन से सम्मानित किया गया, उनमें प्रमुख तौर पर खालसा एड, यूनाइटेड सिख, हेमकुंट फाउंडेशन,दिल्ली सिख गुरुद्वारा मैनेजमेंट कमिटी (डी.एस.जी.एम.सी), ब्रदर्स एनजीओ, वॉयस ऑफ वॉयसलेस, अकाल पुरख की फौज, जितेंद्र सिंह शंटी, मंजीत सिंह जीके, परमजीत सिंह सरना, मनजिंदर सिंह सिरसा, हरमीत सिंह कालका, सोनू सूद, मीका सिंह और अन्य कई प्रसिद्ध संगठन और व्यक्ति शामिल है।  


Amitabh Bachchan से दो करोड़ का दान लेने पर 15 कमेटी सदस्य फिर से पहुंचे कमेटी दफ्तर मांगा हिसाब


 डॉ. चड्ढा ने कहा कि इन निःस्वार्थ योद्धाओं की वजह से ही मृत्यु दर नियंत्रित थी और इतनी अधिक नहीं थी, अन्यथा यह कई गुना और बढ़ जाती।  हर एक व्यक्ति और संगठन को विशेष धन्यवाद जिन्होंने बहुत बड़ा जोखिम उठाया और लाखों कीमती लोगों की जान बचाई।


सरना ने सिख कत्लेआम के दोषियों को सजा दिलाने के लिए कानूनी प्रक्रिया तेज करने की माँग की ।


 "देह शिव बार मोहे एह-हे सुभ कर्मण ते कबू न तरो"  "प्रिय भगवान, मेरे अनुरोध को स्वीकार करें ताकि मैं अच्छे कर्म करने से कभी विचलित न हो"  गुरु गोबिंद सिंह जी।


तमिलनाडु में सिख गुरु के चित्र का प्रयोग करके बेचा जा रहा है तम्बाकू !


 WSCC 'सरबत दा भला' के विश्वास पर काम करता है, जिसका अर्थ है "हर कोई समृद्ध हो"  या  "सभी के लिए आशीर्वाद" इसलिए वे छोटे व्यवसायों को अपने समुदाय की जीवनदायिनी मानते हैं और इसे सफलता की सीढ़ी पर ले जाने का लक्ष्य रखते हैं।  .


दिल्ली सिख गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी दसवंध के दुरुपयोग के मामले में घिरी।


 इन निस्वार्थ कोरोना सेना की अनकही कहानियों को कवर करने के लिए वर्ल्ड सिख चैंबर ऑफ कॉमर्स ने द सिंह न्यूज के साथ गटबंदन किया है।

0/Post a Comment/Comments

DIFFERENT NEWS

EVENT FESTIVAL

EVENT FESTIVAL