कभी दो पल की रोटी के लिए मोहताज थे कपिल शर्मा शो के खजूर ( kartikey raj )

नई दिल्ली , (नरेन्द्र):  कहा जाता है कि {वक्त से लड़कर जो अपनी तकदीर बदल दे, इंसान वही है जो हाथों की लकीर बदल दे} इस बात को साकार कर दिखाया है कपिल शर्मा शो में खजूर का रोल अदा करने वाले कार्तिकेय राज ने बिहार के पटना का रहने वाला 15 साल का वो लड़का है जिसे 2016 में ‘द कपिल शर्मा शो’ ने नया नाम दिया था- खजूर।

 कपिल शर्मा शो का हिस्सा बनने से पहले खजूर को लोग उनके असल नाम कार्तिकेय राज  से ही जानते थे। लेकिन साल 2016 में जब वे कपिल के नजरों में आए तो उनकी ना सिर्फ किस्मत बदली बल्कि टीवी की दुनिया में वो नन्हें हास्य कलाकार के रूप में मशहूर हो गए ।


 बिहार की राजधानी पटना में  गरीब परिवार में जन्में कार्तिकेय राज के पिता मोती प्रसाद मजदूरी किया करते थे और मां टेलर का काम करती थी। आमदनी इतनी नहीं थी कि दो बेटों और एक बेटी समेत पांच लोगों के परिवार का गुजारा हो सके।किसी तरह दो वक़्त की रोटी नसीब हो पाती थी। उनके  पिता ने उसके और उसके भाई-बहनों की पढ़ाई में कोई कमी नहीं आने दी। अपना पेट काटकर भी उन्हें अच्छी शिक्षा देने की कोशिश की क्यूंकि वो जानते थे की एक अच्छे भविष्य के लिए शिक्षा कितनी महत्वपूर्ण है। 


साल 2013 में ऑडिशन में कार्तिकेय राज को चुन लिया गया था. इस दौरान  कार्तिकेय और अन्य बच्चों को  कोलकाता  लेकर गये। वहां कार्तिकेय को बड़े होटल के एसी रूम में ठहराया गया। इस दौरान होटल में जो भी खाना मिलता उसमें से आधा वो खुद खाता और आधा छुपाकर रख लेता। होटल में 5 दिन ठहरने के दौरान उसने काफी खाना बचा लिया और थैले में छुपाकर घर ले आया। घर आकर बड़ी ही ख़ुशी से उसने वो थैला अपनी माँ को देकर कहा कि “मां खा लो बड़े होटल का खाना है। हमें कभी बड़े होटल का खाना नहीं मिला इसलिए लेकर आया हूं।

0/Post a Comment/Comments

DIFFERENT NEWS

EVENT FESTIVAL

EVENT FESTIVAL