IAS Success Story: भारत की इन दिव्यांग महिलाओं ने जो सफलता हासिल की है शायद ही कोई कर सके .

नरेन्द्र : भारत की ये जाबांज  महिलाएं जिन्होंने अपना कद छोटा होने की परेशानी को दरकिनार कर अपने ज्ञान के पंख से भरी सफलता की उड़ान और सिविल सेवा में टॉप किया और ये महिलाएं आज के समय IAS अफसर बन कर अपने सपनों को साकार कर रही हैं वही दूसरी और
दुनिया की सबसे छोटी महिला का किताब हाशिल कर  अभीनेत्री बनी है ज्योति आमगे





राजस्थान के अजमेर की नई जिलाधिकारी के तौर पर नियुक्त आरती डोगरा, जो केवल 3 फीट की हैं।   जिनका जन्म देहरादून में हुआ उन्होंने ब्राइटलैंड स्कूल में पढ़ाई की है। दिल्ली विश्वविद्यालय के लेडी श्रीराम कॉलेज से इकोनॉमिक्स में ग्रेजुएशन की और पोस्ट ग्रेजुएशन के लिए वापस देरहरदून गई राजस्थान के वापस देहरादून गई इस समय आरती राजस्थान कैडर की 2006 बैच की आइएएस अफसर है।





दुनिया की सबसे छोटी महिला ज्योति आमगे जो की नागपुर की रहने वाली हैं। इनको 16-नवंबर-2011 को  दुनिया की सबसे छोटी महिला होने का और यह अवार्ड गिनीज बुक ऑफ़ वर्ड रिकार्ड के अधिकारियो के द्वारा दिया गया, इससे पहले यह ख़िताब अमेरिकी महिला ब्रिजेट जॉर्डन के नाम था। इससे पहले ज्योति आमगे को 2009 में भी टीनएजर में ही ख़िताब मिल चूका हैं. दुनिया की सबसे की छोटी लड़की होने का किताब मिला उस वक़्त इनकी लम्बाई 61.95 सेंटीमीटर थी। ज्योति का सपना बॉलीवुड फिल्मो में काम करने का और यह सुनहरा सपना अपना पूरा किया बॉलीवुड की दो फिल्मो में काम कर के और बिग बॉस सीजन ६ में भी काम किया और ज्योति आमगे अमेरिका में बनी हॉरर स्टोरी फ्रेक शो' में भी काम किया।



इरा सिंघल  भारतीय सिविल सेवा में कार्यरत हैं। वह     संघ लोक सेवा आयोग  द्वारा वर्ष 2014 में आयोजित सिविल सेवा परीक्षा  में प्रथम स्थान प्राप्त कर चुकी हैं। सिंघल चौथी बार में ये कामियाबी प्राप्त कर सकी हैं और वह पहली 4.5 फीट की  दिव्य अंग  महिला हैं जिन्होंने सर्वजनिक श्रेणी में ऊँचा स्थान पाया है।जिन्होंने शिक्षा प्राप्त की नेताजी सुभाष प्रौद्योगिकी संस्थान फ़ॅकल्टी ऑफ़ मैनेजमेन्ट स्टडिज़, दिल्ली विश्वविद्यालय से की है .



और ज्यादा जानकारी प्राप्त करने के लिए लिंक पर जाएं

0/Post a Comment/Comments

DIFFERENT NEWS

EVENT FESTIVAL

EVENT FESTIVAL